Thu. Oct 6th, 2022


छोटी उम्र में बड़ी छलांग मारने में शुमार होते हुए कस्बा भंगाला की एक वर्ष 9 माह की बच्ची आरोही महाजन ने अपनी विलक्षण प्राप्ति के चलते न सिर्फ जिला होशियारपुर बल्कि पंजाब का मान बढ़ाते हुए अपना नाम इंडिया बुक आफ रिकार्डज में दर्ज करवा लिया है।आरोही महाजन को इंडिया बुक आफ रिकार्डज संस्था की ओर से एक वर्ष 7 माह की आयु में सब्जियों, फलों, शरीर के अंगों, म्यूजिक इंस्ट्रूमेंटस, पशुओं के नाम बहुत ही सुचारु तरीके से बताने के अलावा डांस की अच्छी प्रस्तुति, 4 जानवरों की आवाजे निकालने के साथ-साथ अंग्रेजी के अक्षरों को सहज  ही बोलने पर प्रशंसा पत्र, मैडल, बैज व प्रशंसा पत्र वाला कार्ड देकर सम्मानित किया गया। आरोही के इस प्राप्ति पर डिप्टी कमिश्नर अपनीत रियात ने परिवार को मुबारकबाद देते हुए कहा कि छोटी आयु में इंडिया बुक आफ रिकार्डज में नाम दर्ज करवाना बड़ी प्राप्ति हैं। उन्होंने कहा कि संस्था के स्लोगन विलक्षण प्राप्ति विलक्षण लोग के अंतर्गत आरोही ने छोटी सी आयु में अद्भुत प्रस्तुति से नाम कमाते हुए अपने मां-बाप, जिले व प्रदेश का मान बढ़ाया है। अपनीत रियात ने आरोही को साथ लेकर उनके कार्यालय पहुंचे पिता विवेक महाजन, माता मिनाक्षी महाजन व दादी राधा गुप्ता को आरोपी की प्राप्ति के लिए बधाई देते हुए कामना की कि वे भविष्य में भी कामयाबी के शिखर को छूए।संगीत में दिल्ली यूनिवर्सिटी से एम.फिल, पी.एच.डी की डिग्री हासिल करने  वाले गायक विवेक महाजन ने बताया कि वह लंबे समय से बुनियादी संगीत से जुड़े हुए हैं व उनकी बेटी आरोही का अभी से ही संगीत के प्रति विशेष लगाव है। उन्होंने बताया कि परिवार की ओर से आरोही को दी गई ट्रेनिंग के बाद पहले भी दो बार इंडिया बुक आफ रिकार्डज के लिए कोशिश की गई थी जो कि सफल नहीं हो सकी। उन्होंने बताया कि अब 22 मई को रजिस्ट्रेशन के बाद 2 जून को आरोही का नामांकन प्रवान कर लिया गया। उन्होंने बताया कि कोविड महांमारी के कारण संस्था की ओर से प्रशंसा पत्र आदि 22 जून को उनकी रिहायश में भेजा गया। उन्होंने बताया कि परिवार की ओर से आरोही को भविष्य में भी नई छलांग मारने के लिए उत्साहित किय जाएगा।


Source: 5 Dariya News

Leave a Reply

Your email address will not be published.